Home Main Slider बाबर के वंशज ने लिया राम मंदिर निर्माण का संकल्‍प, मांगी माफी

बाबर के वंशज ने लिया राम मंदिर निर्माण का संकल्‍प, मांगी माफी

22 second read
0
0
384
रामराज्य रथ यात्रा, बाबर के वंशज, हैदराबाद के प्रिंस याकूब हबीबुब्दीन तुसी, भव्य राम मंदिर का निर्माण

लखनऊ। अयोध्या के कारसेवकपुरम से मंगलवार को शुरू हुई रामराज्य रथ यात्रा कई मायनों में ऐतिहासिक रही। यात्रा के दौरान बाबर के वंशज हैदराबाद के प्रिंस याकूब हबीबुब्दीन तुसी ने कहा कि मुगलकाल के बादशाहों और उनके कारिंदों ने जो गलतियां की हैं, उनके लिए वह माफी मांगते हैं। उन्होंने कहा कि वह, सुन्नी सेन्ट्रल फोरम और विश्व हिंदू परिषद साथ मिलकर भव्य राम मंदिर का निर्माण करेंगे।

प्रिंस याकूब हबीबुब्दीन तुसी ने पुरानी गलतियों के लिए मांगी माफी

यह रामराज्य यात्रा कई राज्यों से होकर रामेश्वरम तक जाएगी। यात्रा के उद्घाटन के मौके पर मौजूद मुख्य अतिथि विश्व हिंदू परिषद् के अंतरराष्ट्रीय महासचिव चम्पत राय ने कहा कि साल 1991 में भी भारत सरकार ने मामले को आपसी सुलह से सुलझाने के प्रयास शुरू किए थे।

यह भी पढ़ें-

राय ने कहा कि इसमें मुस्लिम पक्ष के नेताओं ने कहा था कि अगर विवादित स्थल पर मस्जिद के चिन्ह साबित नहीं हुए तो वह अपना दावा छोड़ देंगे। हाई कोर्ट ने फैसला दे दिया कि वहां मस्जिद नहीं मंदिर के ही पुरावशेष मिले हैं तो उन्हें अपना दावा छोड़कर राम मंदिर के लिए सहयोग देना चाहिए। उन्होंने कहा कि अब तमाम मुस्लिम समुदाय के लोग राम मंदिर निर्माण के पक्ष में खुलकर आ रहे हैं। हमारी मांग है कि राम मंदिर के केस में सुप्रीम कोर्ट जल्द फैसला सुनाए।

छात्रों के सामने फूट-फूट कर रोए नदवी

उधर, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से निकाले जाने के बाद मंदिर-मस्जिद विवाद को सुलझाने का फॉर्म्युला देने वाले मौलाना सलमान नदवी एक सवाल का जवाब देते-देते फूट-फूट कर रो पड़े। वह मशहूर इस्लामी यूनिवर्सिटी नदवतुल उलेमा में क्लास लेने पहुंचे थे। छात्रों ने बाबरी मस्जिद की जमीन मंदिर के लिए देने के मुद्दे पर सवाल पूछा, जिसका जवाब देते हुए मौलाना सलमान नदवी भावुक होकर रोने लगे।

नदवी कॉलेज में छात्रों को बता रहे थे कि वह किन शर्तों पर राम मंदिर-मस्जिद विवाद के समझौते के लिए तैयार हुए। उन्होंने कहा, ‘मुझे बदनाम किया जा रहा है, अल्लाह इनसे निपटेगा।’

बता दें, हाल ही में मौलाना सलमान नदवी ने श्री श्री रविशंकर से मुलाकात में विवादित जमीन पर राम मंदिर बनाने और मस्जिद को दूसरी जगह शिफ्ट करने का फॉर्म्युला दिया था, जिसके बाद उन्हें मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से बाहर कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें-

सलमान नदवी से नाराज मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मौलाना सलमान हुसैनी नदवी ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) में दरार डालने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इशारों पर काम कर रहे हैं। उन्होंने मंदिर के लिए बाबरी मस्जिद की जमीन छोड़ देने वालों के सामाजिक बहिष्कार का भी आह्वान किया।

यह भी पढ़ें-

सेल्फी बचाएगा कैंसर से, जाने क्या है नई तकनीक

चॉकलेट, चिप्स खाना पड़ सकता है महँगा, हर मिनट शरीर पर पड़ता है प्रभाव

लोकसभा पांच मार्च तक के लिए स्‍थगित, इसी दिन शुरू होगा बजट सत्र का दूसरा चरण

Live Now India पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi सबसे पहले Live Now India पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Live Now India App

Load More Related Articles
Load More By Diwaker Misra
Load More In Main Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

एफएटीएफ की ग्रे लिस्‍ट में शामिल हो रहा है पाकिस्‍तान, होगी ये दिक्‍कतें

इस्‍लामाबाद। आतंकवादियों को फंडिंग और मनीलांड्रिंग के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं करने को लेक…