Home Main Slider हंगामे के साथ शुरू हुआ यूपी का बजट सत्र, राज्‍यपाल ने पढ़ा अभिभाषण

हंगामे के साथ शुरू हुआ यूपी का बजट सत्र, राज्‍यपाल ने पढ़ा अभिभाषण

18 second read
0
0
437
यूपी का बजट सत्र, राज्‍यपाल का अभिभाषण, बजट सत्र में हंगामा

लखनऊ। यूपी विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत काफी हंगामेदार रही। योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले संपूर्ण बजट सत्र के शुरू होते ही विपक्ष ने हंगामा करना शुरू कर दिया। नारे लिख बैनर लेकर विपक्षी विधायक सदन के अंदर पहुंचे और जमकर नारेबाजी की। विपक्ष ने राज्यपाल वापस जाओ के नारे लगाए।

राज्‍यपाल के अभिभाषण के दौरान भी विपक्षी सदस्‍य करते रहे हंगामा

राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान समाजवादी पार्टी के सदस्‍यों ने उनके ऊपर कागज के गोले फेंके। राज्यपाल राम नाईक ने हंगामे के बीच ही अभिभाषण पढ़ना शुरू किया। विपक्ष के नेताओं से राज्यपाल ने कहा कि आप सभ्य समाज के प्रतिनिधि है आपसे इस तरह के काम की उम्मीद नही है। उन्होंने कहा कि आप सभ्य समाज के व्यक्ति हैं यह प्रदर्शित करने का प्रयास करें।

यह भी पढ़ें-

राज्यपाल राम नाईक ने अपने अभिभाषण में कहा कि मेरी सरकार का मकसद सबका साथ सबका विकास करना है। मेरी सरकार निवेश बढ़ाने के लिये 21 व 22 फरवरी को इन्वेस्टर्स समिट करने जा रही है। राज्यपाल ने कहा कि सरकार ने एंटी रोमियो व एंटी भूमाफिया स्क़वायड शुरू किया। गुंडों पर लगाम के लिये यूपी कोका का प्रावधान किया गया है।

राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान विरोधी दल हंगामा व नारेबाजी करते रहे। कुछ सदस्यो ने लाल सफ़ेद गुब्बारे सदन में उछाल दिये। सपा के एक एमएलसी आलू की माला पहने कर आये थे। हंगामे के बावजूद राज्यपाल अपना भाषण पढ़ते रहे।

यह भी पढ़ें-

राज्यपाल ने अपने अभिभाषण में आगे कहा कि सरकार ने एंटी भूमाफिया के माध्यम से सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करने वाले लोगों को जेल पहुंचाया है। यूपी संगठित रूप से अपराध करने वाले लोगों के खिलाफ यूपी को का जैसा सख्त कानून लाया गया है।

हमने उत्तर प्रदेश में बाहर स्तर पर भूमाफियाओं को चिन्हित किया और उनके ऊपर विधिसम्मत कार्रवाई की। राष्ट्रीय बीमा कानून के अंतर्गत बड़ी संख्या में लोगों को यूपी में बीमाकरण किया गया है।

राज्यपाल के अभिभाषण के बीच विपक्ष के बर्ताव से नाराज मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि विपक्ष का बर्ताव अमर्यादित, अशोभनीय और निंदनीय है, विपक्ष के नेता कागज़ के गोले, गुब्बारे, अभद्र नारेबाजी से सदन के माहौल को खराब करने की कोशिश कर रहे हैं।

योगी ने कहा कि सपा के सदस्यों का बर्ताव यह साबित करता है कि वो अपनी अराजकता को सदन के अंदर भी कायम रखना चाहते हैं। मेरा सपा के सदस्यों से विनम्र निवेदन है कि वो अपना आचरण सुधारें, वरना जो लाल टोपी वो पहनते हैं उनसे जनता ही निपट लेगी।

नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा कि राज्यपाल अभिभाषण देरी से पढ़े। अभिभाषण अवैधानिक है। इसलिये पूरे विपक्ष ने उनके खिलाफ नारेबाजी की । राज्यपाल खुद कहते हैं कि घटना कलंक की है, फिर क्यों पढ़ने आये अभिभाषण।

यह भी पढ़ें-

उन्‍होंने कहा कि यूपी में कानून व्यवस्था ध्वस्त है, अराजकता का माहौल है। योगी के बयान पर बोले- जो खुद अराजक है वो दूसरे को कह रहा है। कासगंज के मामले में सरकार एकतरफा कार्रवाई कर रही है।

उन्‍होंने कहा कि मैं सीएम के बातों की निंदा करता हूँ। उसने निवेदन है कि वो यूपी के सदन का आचरण सीखें। आरएसएस खुद देश की आज़ादी के खिलाफ था, लाल टोपी देश की आज़ादी की लड़ाई का प्रतीक है। भगवा एक आस्था का प्रतीक है, इन लोगों ने उसे आलोचना का सामान बनवा दिया। ये लोग सिर्फ मुस्लिम धर्म के ही खिलाफ नहीं है, यह लोग हिंदुओं के भी विरोधी है। सीएम खुद अलोकतांत्रिक हैं उनकी हर बात का जवाब क्या दें।

यह भी पढ़ें-

सेल्फी बचाएगा कैंसर से, जाने क्या है नई तकनीक

चॉकलेट, चिप्स खाना पड़ सकता है महँगा, हर मिनट शरीर पर पड़ता है प्रभाव

छोले भटूरे पर चीन का कब्जा, सोशल मीडिया पर मचा बवाल

Live Now India पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi सबसे पहले Live Now India पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Live Now India App

Load More Related Articles
Load More By Diwaker Misra
Load More In Main Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बस्तीः कोतवाली क्षेत्र के मालवीय रोड पर बाइक की ठोकर से महिला की मौत, केस दर्ज